1528707645fb_img_1447777721276
Kanika Gautam
Last updated 13 May 2019 . 1 min read

#लवलेटरटूसेल्फ़ - क्योंकि, आप अपने पहले और सबसे महत्वपूर्ण प्रेम संबंध हैं


Share the Article :

https://img.sheroes.in/img/default_img.jpg https://img.sheroes.in/img/default_img.jpg

प्रेम के सभी प्रकार, आत्मप्रेम से पनपते हैं। हमारे जीवन की सच्ची आध्यात्मिक परीक्षा अपने आप से, पूरी तरह से और पूरे दिल से प्यार करना है।

हाल ही में शीरोज की टीम ने विभिन्न तरीकों के बारे में सोचना शुरू किया, जिनसे शीरोज समुदाय अपने जीवन में आत्म-प्रेम बढ़ा सके| अपनी हिंदी ऐप के माध्यम से शीरोज ने एक अनोखा चेलन्ज आरंभ किया जिससे महिलाओं को खुद के बारे में सकारात्मक धारणा बनाने में मदद मिल सकती है।

#लवलेटरटूसेल्फ़ चेलन्ज

यह सच है कि दैनिक जीवन के सभी तनावों के बीच कहीं कहीं महिलाएं खुद का व्यक्तित्व खो देती हैं। जाने अंजाने, वे खुद का ख्याल रखना और खुद की सराहना करना छोड़ देती हैं। इसी समस्या के समाधान के लिए हमने हाल ही में हमारे शीरोज हिंदी ऐप पर एक #लवलेटरटूसेल्फ़ चेलन्ज डाला और समुदाय द्वारा दी गई प्रतिक्रियाओं ने हमारा दिल जीत लिया!

यह चेलन्ज सभी के लिए उपलब्ध था। इस चेलन्ज के लिए कोई विशेष नियम नहीं थे, बस याद रखने का एकमात्र नियम यह था कि सकारात्मकता और आत्म-प्रेम को बढ़ावा देने के लिए इस चेलन्ज को बनाया गया था। कोई नकारात्मकता नहीं ... बस आत्म प्रेम।

इसके बारे में सोचो तो यह सच ही है, सभी अच्छी फिल्मों में लवलेटर का होना आम है। भव्य फिल्मी सितारों के अलावा, रोमांटिक प्रेम-पत्र ऑन-स्क्रीन प्रेम कहानियों में एक विशेष भूमिका निभाते हैं। प्रेम-पत्र क्या है? - एक ‘पत्र’ या एक ‘नोट’ जो एक व्यक्ति अपने प्रेमी के लिए लिखता है।

हमने सोचा कि क्यों न खुद को प्रेम-पत्र लिखकर इस व्याख्या पर एक ट्विस्ट दिया जाए?

क्यों ना खुद को सेलिब्रेट किया जाए?

अपनी खामियों को इंगित करने के बजाय क्यों ना अपने आप को पुष्ट किया जाए?

आपको क्या खास बनाता है क्यों इसे दुनिया के साथ शेयर किया जाए?

क्यों ना.... अपने आप को एक प्रेम पत्र लिखा जाए?

यह जिंदगी जीने और प्यार करने का एक नया तरीका है - एकसेल्फ-लवसे प्रेरित तरीका!

आइए हमारे प्रिय शीरोज द्वारा साझा किए गए कुछ पत्रों को देखें। हम आशा करते हैं कि ये पत्र आपके जीवन में भी निरंतर प्रकाश और प्रेम लाएँगे|

पत्रों के विशेष अंश

चलिए विजेता एंट्रीस के साथ शुरू करते हैं:

 

सुप्रिया शुक्ला ने खुद को एक सुंदर पत्र लिखा, जहाँ उन्होंने अपने प्यारे नाम की सराहना की। उन्होंने अपने बचपन की खट्टी-मीठी यादों और अपने भावनात्मक स्वभाव पर कुछ शब्द भी लिखे|

 

 

दीपा ने जिंदगी के उतार-चढ़ाव के बारे मे बात की और उनके लेटर मे यह भी नज़र आया ही उन्होने कभी हिम्मत नही हारी. रिश्तो की उलझानो के लिए उनकी चिंता उनके लेटर मे साफ नज़र आई.

 

 

अलका गुप्ता का पत्र सही मायने मे एक प्रेम-पत्र था. उन्होने अपने पत्र के ज़रिये अपनी कमीयो को नज़रअंदाज़ करते हुए अपनी विशेषताओं को सराहा. सूरत से ज़्यादा सीरत को अहमियत देती अलका, अपने पत्र द्वारा साथी महिलाओं को प्रोत्साहित करने मे कामयाब हुई|

 

 

दोस्ती और संबंधों में धोखा खाई दिव्या ने खुद को एक प्रेम-पत्र लिखा जहाँ उन्होने अपने दिल की सारी बातें खोलीं. दिव्या का पत्र उनके लिए रिश्तो की कड़वाहट के प्रति निराशा व्यक्त करने का एक स्रोत बन गया।

 

 

परिवार के सभी सदस्यों का ख्याल रखने में व्यस्त रहने वाली कल्पना ने भी खुद को एक लव लेटर लिखा जिसमे उन्होने अपनी  अच्छाइयां बताई. एक अच्छी मां, एक अच्छी पत्नी और एक सुंदर वा स्वतंत्र महिला के रूप मे उन्होने खुद को दर्शाया.

 

आइए, विजेता एंट्रीस के अलावा अन्य पत्रो पर भी एक नज़र डाले

 

रेखा गुप्ता ने भी खुद को एक पत्र लिखा जिसमें उन्होने अपने पति के असामयिक निधन के बाद जीवन, जिम्मेदारियों और अकेलेपन के साथ अपने अनुभव के बारे में बात की।

 

यूं तो अनिशपा भंडारी ने अपने पत्र में बहुत कुछ लिखा था लेकिन उनके सबसे प्रेरणादायक और महत्वपूर्ण शब्द थे - "आई लव माईसेल्फ". अनिशपा अपने पत्र में खुद को धन्यवाद देती देखी गई|

आज महिलाएं, जिन्हें हमेशा निस्वार्थ रूप मे जाना जाता है, उन्हे आत्म प्रेम में लिप्त देखा जा रहा है। यह सब शीरोज हिंदी ऐप द्वारा शुरू की गई अद्भुत #लवलेटरटूसेल्फ़ प्रतियोगिता से संभव हुआ है| आइए इस कमाल की ऐप के बारे में और जानें...

शीरोज हिंदी ऐप

अपने हिंदी इंटरफ़ेस के साथ शीरोज पर भाषा की बाधा को तोड़ने के बाद, इस मंच ने महिलाओं को इस तरह से खुलकर बात करने के लिए प्रोत्साहित किया है जैसा कि पहले कभी नहीं देखा गया था। हिंदी ऐप लॉन्च होने के बाद शीरोज के साथ दैनिक जीवन की दिनचर्या और मुद्दों, चुनौतियों और समस्याओं को साझा करने वाली महिलाओं की एक बड़ी आमद हुई है -- और वह भी ऐसी भाषा में जिसमें वे सहज थी| बात करने में अधिक आसानी, अधिक विश्वास और अधिक जुड़ाव अब उनके आचरण में देखा जा सकता है। शीरोज  परिवार मे महिला गृहिणी, छोटे-उद्यमी, किशोर हैं जो जीवन के सभी क्षेत्रों से रहे हैं और एक-दूसरे की मदद करने के लिए अपनी कविताओं, लेखन-कहानियों, कलाओं को साझा कर रहे हैं। उनकी आत्मीयता प्रेरणादायक है!

यदि आप प्रतियोगिता में भाग लेने का अवसर चूक गए थे, तो चिंता करें - अभी भी बहुत देर नहीं हुई है। आप अपने प्रेम पत्र को नीचे दिए गए कॉमेंट्स सेक्षन में शेयर कर सकते हैं। आइए अपने आप के साथ अपनी प्रेम कहानियां लिखें और खुद से बेहतर संबंध बनाएं। खुद को एक प्रेम पत्र लिख के तो देखिए, आपको खुशी होगी कि आपने यह किया!

इस तरह के मजेदार प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए शीरोज हिंदी समुदाय में जाएँ, जहाँ वे रोज़ आपके लिए मज़ेदार चीज़ें ला रहे हैं - वह भी आपकी पसंद की भाषा में!

 

15575935301557593530
Kanika Gautam
An ardent writer, a serial blogger and an obsessive momblogger. A writer by day and a reader by night - My friends describe me as a nocturnal bibliophile. You can find more about me on yourmotivationguru.com

Explore more on SHEROES

Share the Article :

Responses

  • R*****
    Hi Ranjana👐 Mai khud ko bhot psnd krti hu❤️ Khud ko perfect,fit aur bheed se alag rkhne ka humesha try krti hu... Mujhe har kaam mai perfection psnd hai.. Mujhe poetry ka shaukh h.. aur mai poems likhti hu.. meri family hi meri strength h.. Samay k shath badlna chahiye ye meri shoch aur aaj k aadhunik yug k shath kadam se kadam mila kar chalna chahati hu .mai kishi ko hart nhi karana chahati par agar koi mujhe hart kare to mai bhulti nhi aur samay k shath mai usaka jabab deti hu.aur mai kudh ko appreciate krti hu ki r utha bhag aur jamane k shath chal.kahate hai ki . Khud se mat har tu ye jahan jitega Aaj nhi to kal ek tera karava to chalaga.love u a lot sherose.
  • N*****
    Hi tu kitani kubsoorat thi bachpn me Kab tu apna rup kho di tumhe pata nahi chala Ek aj h tu jo rup me rahna chahti thi Usse ab Apni alag duniya banayi h Kwabo me hi sahi is duniya ki tu kubsoorat si wahi pahchan ho tu wahi sabse alag ek Insaan h.. Sabse alag kubsoorat pahchan h...
  • M*****
    Hey Mani. Kush saal phle tum bhut strong thi. Doosro ko smzaya krti thi. Ki je mt kro vo mt kro. But ajj tum khud es uljan me ho ki tum khud ko hi nhi kush smz me aa rha. Pls god mujhe vapis se vo vali Mani bnado jo akele ho kr v kbhi kisi ki kmi mehsoos nhi krti thi
  • S*****
    Dear Sunita you r so sweet mujhe tum bhut psnd ho or me tumse bhut pyar bhi krti hu lekin rojmrra ki jindgi me tumhe bhoolti ja rhi hu pr ab nhi bhoolungi kyounki ab me sheroes app se jo jud chuki hu me tumhe hmesha yad rkhungi mna ki tumhari jindgi me bhut sare utar chdaw hain lekin dear ye preshaniyan to hr kisi ki jindgi me hote hain iska ye matlab to nhi ki tum khud ko bhool jao.. Nhi esa kbhi Mt krna tum to meri best ho wo jo bchpan me kisi dost ke na hone pr bhi akeli khelne lgti thi jisko apni jeet ke liye kisi or ki jrurat nhi hoti thi bs sbko muskrate hue dekhna hi to tumhara aim tha jo ki tum lifetime krogi itna to me tumhe janti hu but is aim ke sath tumhe apni muskuraht or khushi ka bhi dhyan rkhna hai.. Bs itna hi khna tha jyada likhungi to sochogi kya hogya aj kyu itna bhav de rhi h. Make yourself everytime strong and happy good bye.... Tumhe yad krti hui Tumhari antratma..
  • S*****
    Delhi date 17-5-2019 Priya saheli Seema, Kaisi ho or ghar m sab kaise h. Aaj Tak Mene humesha sabki baat suni sabke pasand k bare m socha. Aaj m sirf Apne liye jina chahti hu. Mujhe yaad h jab m teen char sal ki thi m padhai Karu isliye mere Papa ne mujhe Apne Janne vale k ghar bheja taki m padhu. Mai nadan apne ghar k alava kahi man nahi Lage. Kaisi Niklu vaha se is udedhbun m lagi Rahi ek din Mauka milte hi apni mummy k pas vapas aagai. Mai humesha se samajhdar thi. Aaj Mai apni zindagi k 44 sal pure kr chuki mujhe Khushi h ki main humesha apni Seema m Rahi. Meri taraf se Apne mummy Papa koi namaste. Khud ki yaad Mai Tumhari seema
  • H*****
    Hii Hina, kafi time bad moka mila tumse bat krne ka. Bachpan ae dekha tumhe kesi thi tum chanchal hr chij m part leti. Pr ab itna badal gyi ho shadi bad to bilkul khudko khudme simet liya. Kaha gye tumhare sapne independent bnne k. My love please apna dhyan rkho. Tum kitni sundar ho. Tumhari ankhe kitni sundar h. Y ghar ki jimmedariya to bakhubi nibha rhi ho pr khudse kyu udas ho. Enjoy your life. Take care yourself my jaan. Ab to wo b khte h tumhe thoda parlour jao. U r beautiful but ise or nikharo. Or ha u r d best so dont worry about silly nonsense talk of anybody. Love you.
  • V*****
    Hiii वीना,यार तुम हो क्या आखिर? जहाँ देखो,सब तुम्हारी smile की तारीफ कर रहे,तुम्हारे nature के बारे में बोल रहे हैं। अरे क्या तुम्हें कभी stress नही होता,29 years हो गए तुम्हारी शादी को,इतनी बड़ी फैमिली को संभालते हुए,क्या थकी नही हो??क्या तुम्हारा मन नही करता,किसी लम्बे टूर पे निकल जाओ,घूमो,मस्ती करो।क्या यार...हा पता है, तुम बोर नही होती,अपने म्यूजिक,राइटिंग और बच्चों की ट्यूशन में मस्त रहती हो।पर फिर भी...तुम कहती हो कि तुम खुद की फ़ेवरिट हो,तुम्हें फ़्रेंड्स के साथ टाइम spend करने में मज़ा आता है।यार its too much, but रियली,you r great।luv u.
  • N*****
    Jab bhi mujh par dukh aye. Maine apne bhole nath ko pukara.god ne hamesha meri help ki.
  • N*****
    Maine jindgi mein bahut utar chadav dekhe hai. Akele reh kar mushkilo ka samna kiya hai. Kabhi himmat nahi hari.
  • S*****
    Joining sheros has positiveity in my life. say, the art of living is easy. Thanks shero friends.love you all.
  • B*****
    I love and like sheroes friends and I love our parents.
  • S*****
    I love shiroj frends